फिर से बच्चा हो जì

- Hindi Tarang , Hindi Tarang

2017-02-16

Cultural

ज़िंदगी में चाहे जहाँ रहो
जब रोना हो तो बिलख जाना
जब हँसना हो तो खिलखिला जाना,
जब भी तीखा लगे तो चीनी कम नहीं
थोड़ा सा ज़्यादा खा जाना|
कि इस भाग दौड़ भरी ज़िंदगी में कभी फ़ुर्सत मिले
तो फिर से बच्चा हो जाना||